भाभी ने देवर से चुदाई करवाई

Image source,বাঙালি বিএফ

Image caption,

हिंदी फिल्म के नए गाने: भाभी ने देवर से चुदाई करवाई, कोमल भाभी मेरे पीछे खड़े होकर मेरी कारगुजारिश देखने लगी......भाभी की साँसे मेरे कंधे पर और मेरे कान के पिछले हिस्से पर पड़ रही थी........लोग औरत को गरम करने के लिए उसके कानो को छेड़ते है और यहां भेनचोद मेरे पहले से ही खड़े बाबूराव पर यह सितम और हो रहा था..

मिलन चार्ट कल्याण चार्ट

उसकी बात सुनकर रूपाली समझ गयी के वो उसे उन्हीं रंडियों में से एक समझ रहा था जिन्हें वो हर रात चोदा करता था. हर रात वो उसे सहारा देती थी और वो उन्हें चोद्ता था पर फ़र्क़ सिर्फ़ ये था के आज रात वो घर पे था और सहारा रूपाली दे रही थी.. हिंदुस्तान लीवर प्रोडक्ट्सरूपाली ने तेज को दीवार के सहारे खड़ा किया और उसकी जेबों की तलाशी लेने लगी. तेज उसके सामने खड़ा था और उसका जिस्म सामने खड़ी रूपाली पर झूल सा रहा था. अचानक तेज ने अपने हाथ उठाए और सीधा रूपाली की गान्ड पर रख दिए..

मुश्किल से सीढ़ियाँ चढ़ कर दोनो उपेर पहुँचे. रूपाली तेज को लिए उसके कमरे तक पहुँची और दरवाज़ा खोलने की कोशिश की. पर दरवाज़ा लॉक्ड था.. व्हाट्सएप डाउनलोड कैसे होगामगर उन्होंने हलके से अपने गालो को सहलाया और जायजा लिया की बाल साफ़ होने के बाद उनकी मुनिया कैसी चिकनी लगेगी..

खाने के बाद ठाकुर अपने कमरे में आराम करने चले गये. रूपाली बड़े कमरे में बैठी टीवी देख रही और पायल भी वहीं उसके सामने ज़मीन पर बैठी हुई थी. तभी तेज नीचे उतरा और हवेली के बाहर जाने लगा.भाभी ने देवर से चुदाई करवाई: मुझे इस बारे में कुछ अजीब सा लग रहा है… पर था बहुत अच्छा… बहुत… पर मैं अब पापा से मिलने में थोड़ा परेशान होऊँगा….

ज़्यादा सोचिए मत काका. बस आप मेरे कहे अनुसार चलते रहिए. मेरी खातिर. मैं आपके हाथ जोड़ती हूँरूपाली की आँख में पानी भर आयामैं अब और इस हवेली में एक मूर्ति बनकर नही रह सकती.भाभी चीख चीख कर पेलवा रही थी मगर रोशनदान में से आवाज़ नहीं आ रही थी.....अगर मैं उनकी मादक सिसकारियां सुन लेता तो शायद वहीँ अपना माल ढोल देता..

প্রাকৃতিক ছবি ডাউনলোড - भाभी ने देवर से चुदाई करवाई

गाउन का परदा सिर्फ़ एक पल के लिए हटा था और मुझे उनके गदराई गांड और जांघों का पिछला हिस्सा ही दिखा मगर…….फिर मैंने रानी की चोटी अपने हाथ में लपेट के खींच ली जिससे उसका मुंह ऊपर उठ गया और पूरी बेरहमी से चोदने लगा..

ये आज से करीब 9 साल पहले की बात है. तब ये चंदर मुश्किल से 7-8 साल का था. गाओं में यूँ ही कुच्छ दिन अनाथ बेचारा यहाँ वहाँ घूमता रहा. एक दिन मेरे घर खाना माँगने आया तो मैने यहीं रख लिया बिंदिया ने बात पूरी करते हुए कहा. भाभी ने देवर से चुदाई करवाई ये कहकर चाची बाथरूम की ओर गयी और मेरा तो बी पी बढ़ गया. उस कसी पेंटी में चाची के कुल्हे ऐसे मटक रहे थे जैसे जेली हो. पेंटी ने चाची के कुलहो को छुपाया नहीं बल्की और उभार दिया था. मेरे जैसे गोल गांड के रसिया के लिए तो ये नज़ारा फ्रेम करा के रखने वाला था. उनके हर कदम पर उनके नितम्ब भी थाप दे रहे थे..

सारे कपडे खोल के टोवल बांधा और बाथरूम में घुसा. टॉवल टांगा और कमोड का ढक्कन लगा कर उस पर बैठ गया, मैंने सोचा चोट का अच्छे से मुआयना कर लूँ......भेन्चोद.....ऐसा दर्द हो रहा था की बस........

सिलाई मशीन का आविष्कार किसने किया था?

भाभी ने देवर से चुदाई करवाई मम्म्म… मुझे मर्दों की छातियों पर घने बाल बहुत पसंद हैं… कोमल मुश्कुराई जब उसने कर्नल की छाती को काले-घने बालों से ढके हुए पाया। कोमल के तीखे नाखून कर्नल की छाती को प्यार से खरोंचते हुए लण्ड तक पहुँचे।.

राजस्थान यूनिवर्सिटी न्यूज़? एक्स एक्स एक्स एन एक्स

भाभी ने देवर से चुदाई करवाई मैंने तुरंत अपनी टाँगें चौड़ी कर ली........और चाची मेरी टांगो के बिच कुतिया की तरह बैठ गयी और मेरे गोटों को देखने लगी.......देख तो क्या रही थी.......मज़े से सहला रही थी.....कभी कभी नाखूनों से रगड़ देती.......कांच ढूंढने के.

अंजीर खाने से नुकसान

पिया : नहीं यार.....पहले तो उसने साफ़ मना कर दिया पर फिर मैंने पापा को बोला तो पापा ने उसको डांट दिया. मेरा साल ख़राब हो जायेगा तो ?. चाची : ओफ़ फ़ो........अरे लल्ला वो तो मैं दो दिन से उन्ही नहीं पहन रही.....इतनी खुजली चलती है. पैंटी पहनती तो अब तक.

भाभी ने देवर से चुदाई करवाई नवजोत की आवाज़ आई, पिया.....दरवाजा खोल. पिया का चेहरा एकदम तमतमा गया, वो उठी और पैर पटकती हुयी दरवाजे पर गयी. उसने जोर से दरवाजा खोला, क्या है भाई ?, आप तो पढ़ते नहीं मुझे तो पढने दो..

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना

झारखंड गिरिडीह का मौसमइधर काकी ज़ोर लगाए जा रही थी की अचानक उनका बॅलेन्स बिगड़ा और वो मुड़े से फिसल कर पीछे की और गिर पड़ी . अब अपुन फुल ज़ोर लगा रहे थे और उनके दोनो हाथ पकड़ रखे थे, उनके पीछे गिरते है मेरा भी बॅलेन्स बिगड़ा और मैं उनके उपर ही आ गिरा..

कामिनी के बारे में लोग अच्छा नही कहते. जो नौकर उस वक़्त यहाँ काम करते थे वो कहते थे के उसका चल चलन ठीक नही है. पता नही क्यूँ कहते थे पर हर कोई कहता था के सीधी सी दिखने वाली चुप चुप रहने वाली कामिनी ऐसी नही थी जैसी वो दिखती थी. मैंने ऑंखें खोल दी....मैं सोफे पर पड़ा था. भाभी मेरे सामने झुकी हुयी मेरे ऊपर पानी छिड़क रही थी. मैंने उनको देखा और उन्होंने मेरी आँखों में ही पानी छिड़क दिया....

जब प्रेम ने उसके वस्त्रों के पीछे लगे ज़िप को खोलने की चेष्टा की तो कोमल बोली- जल्दी मुझे नंगा करो प्रेम… मैं तुमसे अपने मम्मों को कटवाना चाहती हूँ… उन्हें भी उसी तरह काटो जैसे तुमने मेरी गर्दन को काटा था….

इसके जवाब में कोमल ने अपने शरीर को इस तरह मोड़ा की उसका पिछवाड़ा प्रेम के मुँह की तरफ़ हो गया। मेरी गाण्ड मारो, अपने इस मूसल से मेरी गाण्ड की धज्जियां उड़ा दो… कोमल ने जवाब दिया।.

अरे देखा था आज मैने दिन में जब तू उसके लंड पर कूद रही थी. थोडा छ्होटा ही लगा मुझे तो रूपाली ने जवाब दिया.

பெரிய புன்டை मैंने हाय हाय करते हुए और आहे भरते हुए कहा, चाची इनसेक्सशन नहीं......इन्फेक्शन, ...........................

सेक्स सेक्स सेक्स इंडियन

भाभी ने देवर से चुदाई करवाई: चाची की आंखे फ़ैल गयी. बोली, राम.....कितना बेशरम है रे लल्ला.......बेशरम भी है और हिरसु भी.....ताका झांकी करने से बाज़ नहीं आया न तू......... हिलाने में इतना मज़ा आ रहा था की ऑंखें खुल ही नहीं पा रही थी. मैं कनखियों से उनको देख रहा था , वो अब सोच में पड़ गयी थी की क्या करे...........